ज़िन्दगी

Updated: Sep 25, 2020

मैंने मिट्टी के ढ़ैर चलते देखें हैं ,

ज़िन्दगी की छत के नीचे सपने दबते देखें हैं !

10 views0 comments

Recent Posts

See All

©2019 by Not Yet.